Saturday, 26 May 2018

Amrita shergill

Amrita Sher-Gil (Punjabi: ਅੰਮ੍ਰਿਤਾ ਸ਼ੇਰਗਿੱਲ; 30 January 1913 – 5 December 1941) was an eminent Hungarian-Indian painter. She has been called "one of the greatest avant-garde women artists of the early 20th century" and a "pioneer" in modern Indian art. Amrita Sher-Gil was born in  1913 in Budapest, Hungary, to Umrao Singh Sher-Gil Majithia, a Sikh aristocrat and a scholar in Sanskrit and Persian, and Marie Antoniette Gottesmann, a Hungarian-Jewis hopera singer who came from an affluent bourgeois family

Sunday, 22 April 2018

राष्ट्रवाद के भी 100 उजले और 100स्याह रंग होते हैं,आओ तुर्क़ी की बात करें!



बात करते हैं तुर्की की, तुर्क़ी के 100 साल पहले राष्ट्रपति  कमाल अतातुर्क को कौन नहीं जानता , कमाल अता तुर्क ने  मुस्लिम तुर्क़ी में   राजशाही जैसा और पारम्परिक या कहें दकियानूसी शासन ख़िलाफ़त का खात्मा कर यूरोपीय देशों के रंग ढंग वाला शासन/गणतंत्र स्थापित किया जिसमें मुसलमानों और ईसाईयों के तमाम धार्मिक चिन्हों को घर तक सीमित कर दिया और मुस्लिम देशों में सेकुलरवाद का मिसाल बना,कमाल अता तुर्क का सबसे बड़ा काम तुर्क़ी भाषा के आधुनिकीकरण में किया,अतातुर्क ने  अपने देशवासियों को  तुर्क़ी भाषा को रोमन वर्णमाला में लिखने में ही लिखने को मजबूर किया,अरबी लिपि खत्म कर दी .…..........इन बातों से अतातुक के लिए सहज ही सम्मान जगता है क्योंकि उसने तुर्क़ी को आधुनिक यूरोपीय देशों की श्रेणी में ला खड़ा किया!
लेकिन अता तुर्क का राष्ट्रवाद काना,अपाहिज ,तंगदिल भी था , तुर्क़ी में तुर्क़ी भाषा को छोड़कर तमाम अन्य भाषाओं पर घमण्डपूर्ण रोक लगा दी,तुर्क़ी के कूर्द लोगों को कुर्द भाषा बोलने से,कूर्द में बोलने,गाने से आपराधिक मामलों तक की हद में मना कर दिया, 
एक नामी कूर्द सिंगर को 1990 के दशक में कूर्द भाषा में गाने पर जेल में ठोक दिया गया,एक कूर्द सांसद(बाद में मानव स्वतंत्रता का सखरोव पुरस्कार विजेता) लैला जाना  को सिर्फ कूर्द भाषा बोलने के कारण आलोचना ,अपराध का निशाना बनाया गया!
2002 के बाद तुर्क़ी को कुछ अक्ल आई और कूर्द ज़बान से कुछ बैन हटाये,कुर्दी में टीवी चैनल्स,अख़बार की छूट दी गयी!
पिछली सदी में ये तुर्क़ों /कमाल अता तुर्क का केवल राष्ट्रवाद था या बहुसंख्यकता का घमंड भी शामिल था?

फ्लोराइड क्या है?राजस्थान ,ज़िला श्री गंगानगर में फ्लोराइड पर एक नज़र

फ्लोराइड क्या है और यह कहाँ पाया जाता है
फ्लोराइड नाम उस यौगिक समूह को दिया गया है जो फ्लोरीन से बने प्राकृतिक तत्व होते हैं। फ्लोराइड पानी और मिट्टी में विभिन्न स्तरों पर मौजूद होते हैं।
फ्लोराइड पानी में पाया जाने वाला एक तत्व है जिसकी एक उचित मात्रा शरीर के लिए जरूरी है लेकिन अधिक मात्रा शरीर में कई तरह के रोग पैदा कर सकती है।
■ज़्यादा से नुक़सान:-
जल प्रदूषण में एक प्रमुख तत्व है फ्लोराइड देश के कई हिस्सों के भूजल में फ्लोराइड पाया जाता है। फ्लोराइड युक्त जल लगातार पीने से फ्लोरोसिस नाम की बीमारी होती है। इससे हड्डियां टेढ़ी, खोखली और कमजोर होने लगती है।



3

फ्लोराइड के नुकसान

यह धीरे-धीरे रीढ़ की हड्डी में जमा होने लगता है। जिससे हमारी सामान्य दैनिक क्रियाएं भी प्रभावित होने लगती है। अपने पीने के जल स्रोतों को समय-समय पर परिक्षण कराते रहना चाहिए। इसमें किसी भी तरह का प्रदूषण घातक होगा।



4

कितना जरूरी है फ्लोराइड

आप जो पानी हैंडपंप, बोरवेल एवं गहरे पारंपरिक कुएं-बावड़ियों से ले रहे हैं, इनका पानी दिखने में साफ दिखाई देता हो, परंतु इनमें न दिखाई देने वाला "विषैला" रसायन फ्लोराइड हो सकता है। जब इसकी मात्रा पीने के पानी में 1 या 1.5 पीपीएम से अधिक हो, तो लंबी अवधि तक इसका सेवन करने पर यह किसी भी उम्र के स्त्री-पुरुष को अपने घातक असर का शिकार बना लेता है।



5

कैसे नुकसान पहुंचाता है

फ्लोराइड जल एवं भोजन के माध्यम से शरीर में प्रवेश होने पर रक्त परिवहन तंत्र द्वारा शरीर के विभिन्न अंगों में पहुंच कर धीरे-धीरे इनमें जमने लगता है। यह मां और गर्भस्थ शिशु के बीच स्थित दीवार को भी आसानी से भेद सकता है। यह लिंगभेद नहीं करता और साथ ही उन अंगों को ज्यादा प्रभावित करता है, जिनमें कैल्शियम तत्व की बहुलता हो।



6

फ्लोराइड की पहचान

इसके विषैले प्रभाव दांतों एवं हडि्डयों में पहले एवं तेज गति से देखने को मिलते हैं। दांतों पर पड़ी हल्की गहरी आड़ी धारियां एवं धब्बे फ्लोराइड की पहचान है। इसके असर से हडि्डयां खोखली और कमजोर होने से टेढ़ी-मेढ़ी होने लगती हैं।



7

लक्षण

फ्लोराइड युक्त क्षेत्रों में बसे लोगों में पेट दर्द, गैस बनना, डायरिया जैसी शिकायतें आमतौर पर पाई जाती है। इनमें भोजन के प्रति रूचि भी कम हो जाती है। फ्लोराइड भोजन नली की आंतरिक दीवार को धीरे-धीरे हानि अथवा क्षति पहुंचाता है। इस कारण पाचन क्रिया प्रभावित होती है।



8

मस्तिष्क को भी प्रभावित करता है

यह अति संवेदनशील एवं सक्रिय अंग मस्तिष्क की तंत्रिकाओं (न्यूरोंस) को तोड़ने एवं नष्ट करने की क्षमता रखता है। इस वजह से मनुष्य की सक्रियता एवं दैनिक क्रियाएं प्रभावित और अनियंत्रित होने लगती हैं जैसे पेशाब पर नियंत्रण खोना, व्यक्ति का सुस्त होना।



9

*फ्लोराइड की कमी भीं नहीं होनी चाहिए* दांतो को नुकसान

फ्लोराइड की कमी से दांतों का एनामल अर्थात दांतों की बाहरी परत कमजोर हो जाती है और इनमें कैविटी होने की संभावना बढ़ जाती है। वहीं दूसरी ओर इसकी अधिकता से दांतों पर धब्बे  पड़ जाते है, जिनको किसी भी तरीके से साफ नहीं किया जा सकता, क्योंकि ये धब्बे एनामल के अंदर तक ही  मौजूद होते हैं।




कैसे पूरी करें फ्लोराइड की कमी

हर उम्र के लोगों को फ्लोराइड जरूरत पड़ती है यदि उनके पीने के पानी में पर्याप्त मात्रा में फ्लोराइड नहीं होता। ऐसे में न सिर्फ बच्चों को बल्कि वयस्कों को भी फ्लोराइड युक्त टूथ पेस्ट का इस्तेमाल करना चाहिए। लेकिन बच्चों को बहुत ज्यादा फ्लोराइड युक्त टूथ पेस्ट नहीं करने देना चाहिए अन्यथा उन्हें  फ्लोरोसिस हो सकता है।




पानी का परीक्षण करें

पीने के पानी के स्रोतों के जल में जल विभाग अथवा जल रसायन परीक्षण प्रयोगशाला से फ्लोराइड की उपस्थिति एवं इसकी मात्रा की जांच करवाएं। फ्लोराइड होने पर इन स्रोतों पर डिफ्लोराइडेशन प्लांट लगवाना चाहिए। भोजन में पत्तेदार हरी सब्जियां, दूध-दही, नीबू, आंवला, हरी फलियां इत्यादि का समावेश करें।
राजस्थान में फ्लोराइड :-
सर्वाधिक वाले ज़िले
भूजल में अधिक फ्लोराइड की स्थिति के आधार पर प्रथम स्थान पर *नागौर* एवं इसके 771 गांव, द्वितीय स्थान पर जयपुर एवं इसके 717 गांव तथा तृतीय, चतुर्थ एवं छठे स्थान पर क्रमशः बॉसवाड़ा, भीलवाड़ा, बाड़मेर एवं टोंक जिले हैं।
राजस्थान में निम्न फ्लोराइड वाले ज़िले:-

झालावाड़ जिले के 256 गांवों के भूजल में निम्न फ्लोराइड है, अतः झालवाड़ा प्रथम स्थान पर है। द्वितीय स्थान पर बारां है, जहां 192 गांवों में निम्न फ्लोराइड की समस्या है।



Tuesday, 27 March 2018

परीक्षा की मासूमियत

उम्र की मासूमियत देखिये,पढ़कर हँसी, स्नेह और स्वयं की गलतियां याद आती हैं
Qus:- *वर्नाक्यूलर प्रेस एक्ट क्या है?*(कक्षा8 में पूछा गया)
Ans(बच्चे ने लिखा)
कूलर गर्मियों में काम आता है,इसमें पानी डाला जाता है,पानी का ध्यान रखना चाहिए नहीं तो इसमें मच्छर......
प्रेस:-यह कपड़ों में सलवटें निकालने के काम आती है ,इसे गर्म....
Qus *वैश्विकरण के क्या लाभ है?*
वैष्वीकरण सुबह शाम काम आता है,इससे शरीर में ऊर्जा बनी रहती है ,यह अच्छा होता है,यह......
Ques *साइमन कमीशन पर टिप्पणी लिखिए*
Ans इसमें अँगरेज़ आये थे,इसमें पाकिस्तानियों ने लोगों पर गोलिया चला कर मार दिया तब...(पाकिस्तानी सोचेंगे,हम तो तब पैदा ही नहीं हुए,ये बच्चा हमें इलज़ाम दे रहा है)
Ques गुप्त कालीन राजाओं का प्रशानिक मूल्यांकन कीजिये
Ans गुप्तों राजाओं ने अपना कालीन किया,मुग़लों से युद्ध किया,गुप्तों ने अपना मूल्यांकन किया!     ......so on🎯🎯🎯

Wednesday, 27 September 2017

ਜੰਮੂ ਵਿੱਚ ਪੰਜਾਬੀ ਦੇ ਕੁਝ ਰੰਗ

ਮੈਂ ਸਿਤੰਬਰ ਮਹੀਨੇ ੨੦੧੭ ਨੂੰ ਜੰਮੂ ਸਫ਼ਰ ਦੌਰਾਨ ਇਹ ਪੰਜਾਬੀ ਰੰਗ ਵੇਖੇ !ਨੋਟ:-ਇਹ ਫੋਟੋਆਂ ਵਿਕਿਪੀਡਿਆ ਤੇ ਵੀ ਮੈਂ ਹੀ ਅਪਲੋਡ ਕੀਤੀਆਂ ਹਨ! مین ستمبر ٢٠١٧ چ جممو گھممن ولے ایہ پنجابی رنگ ویکھے
ਜੰਮੂ ਵਿੱਚ ਪੰਜਾਬੀ ਫਿਲਮ ਦਾ ਪਰਦਰਸ਼ਨ

 PUNJABI  Newspapers at Jammu

Manda zoo jammu

थार मरुस्थल मे मेरा गाँव और शहर ‍,यहाँ भी आती है खूबसूरती